Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News

latest

महासम्मेलन में उमड़ा जनसमूह राजपूत समाज ने कराया ताकत के एहसास

 राजपूत एकता महासम्मेलन में उमड़ा जनसमूह राजपूत समाज ने कराया ताकत के एहसास , ठाकुर सुंदर सिंह सोम,                                         ...

 राजपूत एकता महासम्मेलन में उमड़ा जनसमूह राजपूत समाज ने कराया ताकत के एहसास





, ठाकुर सुंदर सिंह सोम,                                                                                                                मोहित कल्याणी,                                                                                मुजफ्फरनगर। चरथावल विधानसभा क्षेत्र के गांव बिरालसी में रविवार को राजपूत एकता महासम्मेलन का किया गया आगाज कार्यक्रम की अध्यक्षता ठाकुर मेंसपाल सिंह व संचालन डॉक्टर योगेंद्र चौहान नहीं किया महासम्मेलन में राजपूत एकता महासम्मेलन के संयोजक व अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय महासचिव राकेश पुंडीर ने कहा कि इस महासम्मेलन मैं सर्व समाज के सम्मानित लोगों ने शामिल होकर यह साबित कर दिया कि राजपूत समाज में सर्व समाज के लोगों में कितना स्नेह समाज के प्रति है। और बात इस मंच से राजपूत समाज के लिए की जाए तो जब जब राजपूत वीरों ने इस देश की रक्षा के लिए दुश्मनों से युद्ध किया है तब तब सर्व समाज के लोगों ने राजपूत सुर वीरों का भरपूर सहयोग किया है। जब भी वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप देश के लिए युद्ध करते थे तो उनका खजाना खाली हो जाता था तब सेठ भामाशाह जैसे महान पुरुषों ने देश की रक्षा के लिए महाराणा प्रताप जैसे वीरों का सहयोग किया वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप वह पृथ्वीराज चौहान जैसे वीरों ने जब जब भी तलवार उठाई सर्व समाज वह देश की रक्षा के लिए अनेकों क्रांतिकारियों का सहयोग और हमेशा से जनहित के समर्थन मे रहा है। राजपूत एकता महासम्मेलन के दौरान श्री पुंडीर ने कहां है कि राजपूतों ने हमेशा से सर्व समाज वह देश की रक्षा की है और अब समय आ गया है कि राजपूतों को एक मंच पर इकट्ठा होकर अपनी ताकत पहचानने का यह खास अवसर है हम फिर से देश व समाज की रक्षा कर सकें उन्होंने महा सम्मेलन में उपस्थित लोगों से अपील की है कि सर्व समाज के राजपूत वंशजों को सर्व समाज में फैली कुरीतियों को दूर किए जाने को लेकर पहल करनी चाहिए और आज के युवाओं को नशाखोरी से बचाकर समाजवाद देश की सेवा की ओर प्रेरित किया जाए शिक्षा व स्वास्थ्य पर जोड़ दिया जाए वही कार्यक्रम में मुख्य भूमिका निभाने वाले राजपूत वंशज ठाकुर सुंदर सिंह सोम ने अपने संबोधन में कहा कि राजपूत समाज का एक बड़ा इतिहास है जिसे आज के नौजवान पीढ़ी भूलवश भूली बैठी है उन्होंने कहा कि राजपूतों से जुड़ी इतिहास की कहानियां सच्ची है और राजपूत आज भी शहीद वीर सपूतों के वंशज हैं और जब जब भी राजपूत समाज की तलवार उठी तो हमेशा वह तलवार अन्याय के विरुद्ध सर्व समाज व देश की रक्षा के लिए उठी है वही ठाकुर सुंदर सिंह सोम ने आगामी पंचायत चुनाव में स्वर्ण समाज के 90% गांव रिजर्व में किए जाने को लेकर बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है साथ ही सरकार से मांग की है कि अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति व पिछड़ी जाति के आरक्षण की तर्ज पर सामान्य वर्ग का भी अलग से आरक्षण किया जाए जिसमें और जातियों का हस्तक्षेप न हो सके वही ठाकुर राकेश पुंडीर ने महा सम्मेलन में उपस्थित लोगों से अपील की कि अगर इस पंचायत आरक्षण में संशोधन नहीं होता तो सर्व समाज के राजपूत वंशज गांव-गांव में जाकर चुनाव का बहिष्कार करेंगे। इस दौरान कार्यक्रम में मुख्य रूप से किसान स्वाभिमान संगठन के अध्यक्ष ठाकुर अमरीश राणा, ठाकुर सुंदर सिंह सोम, नरेश चौहान ठाकुर, उदय सिंह पुंडीर, अरविंद राजपूत, ब्रह्मानंद चौहान, राणा तोप सिंह पुंडीर, ठाकुर वीरेंद्र सिंह, ठाकुर भूप सिंह पुंडीर, अजमत पुंडीर, मास्टर तिरपाल, पुंडीर बबली राणा, संदीप पुंडीर, एडवोकेट राहुल ठाकुर, भाकियू अंबावता सहारनपुर मंडल प्रभारी मोहम्मद शाह आलम, मांगेराम कश्यप, मास्टर लोकेश, ऑल इंडिया प्रेस एडिटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष आदेश सैनी, ठाकुर योगेश सिंह कुशवाह, मोहित कल्याणी, संजय कटारिया, सुरेंद्र चौधरी, असलम त्यागी, जीशान काजमी,  आदि सहित क्षेत्र के गणमान्य लोग हजारों की संख्या में उपस्थित रहे।

No comments